Sip full form in Hindi | Sip meaning in Hindi | About sip in Hindi

नमस्ते दोस्तो, आज हम इस लेख के माध्यम से Sip full form in Hindi, Sip meaning in Hindi, एसआईपी को कैसे शुरू करें, एसआईपी कब शुरू करे इन सभी विषयोकी जानकारी हासील करेंगे। जिसमे निवेश कि सबसे बेहतरीन योजना SIP का किस तरह एक सामान्य व्यक्ती उपयोग कर सकता है? जो भी नये निवेशक है, उनको इस लेख का सबसे जादा फायदा होगा।

एस आई पी क्या है – Sip meaning in Hindi:

एक व्यवस्थित निवेश योजना जिसे SIP के रूप में अधिक लोकप्रियता मिली हुई है। SIP का फुल फॉर्म  Systematic Investment Plan होता है। SIP का निवेशकों को एक अनुशासित तरीके से निवेश करने के लिए म्यूचुअल फंड द्वारा दी जाने वाली सुविधा है। SIP सुविधा एक निवेशक को चयनित म्यूचुअल फंड स्कीम में पूर्व-निर्धारित अंतराल पर निश्चित राशि का निवेश करने की अनुमति देती है। जिसे निवेशक अपने हिसाब से अंतराल का चयन करके अपनी राशी निवेश कर सकता है।

निश्चित धनराशि रुपये मे कम से कम ५00 हो सकती है। जबकि पूर्व-परिभाषित एसआईपी अंतराल साप्ताहिक / मासिक / त्रैमासिक / अर्ध-वार्षिक या वार्षिक आधार पर हो सकता है। निवेश के लिए एसआईपी का चयन करणे से, निवेशक बाजार की गतिशीलता के बारे में चिंता किए बिना समयबद्ध तरीके से निवेश करता है, और औसत लागत और कंपाउंडिंग की शक्ति के कारण लंबी अवधि में इसका जादा लाभ मिलता है।

एस आई पी के फायदे – Sip ke fayde:

एसआईपी के कई फायदे है, जैसे कि आप कम लागत से निवेश कि शुरुवात कर सकते है, जिसमे मासिक, त्रैमासिक / अर्ध-वार्षिक या वार्षिक आधार पर किश्त जमा करणे कि सुविधा उपलब्ध होती है, इस निवेश को आप पाच या उससे जादा वक्त देते है तो कंपाउंडिंग कि शक्ती के कारण आपको बेहतरीन रिटर्न मिलना तय है।

कंपाउंडिंग की शक्ति:

जब आप एसआईपी के माध्यम से नियमित रूप से निवेश करते हैं और लंबी अवधि के लिए निवेश करते हैं, तो कंपाउंडिंग के प्रभाव से लाभ बढ़ जाता है। चक्रवृद्धि प्रभाव यह सुनिश्चित करता है, कि आप न केवल अपनी मूल राशि (वास्तविक निवेश) पर लाभ कमाएं, बल्कि मूल राशि पर लाभ पर भी, यानी आपका पैसा समय के साथ बढ़ता है। क्योंकि आप जो पैसा निवेश करते हैं वह रिटर्न कमाता है। और रिटर्न भी रिटर्न कमाता हैं।

एस आई पी जल्द शुरू करणे के फायदे:

जितना जल्दी हो सके उतना नियमित रूप से बचत और निवेश करना शुरू कर देने से, आपके लक्ष्यों को प्राप्त करना आसान बनाता है। नीचे दिया गया ग्राफ २५ साल नियमित रूप से ५००० निवेश पर १२% PA की लाभ मानते हुए, जीवन के विभिन्न चरणों में ५००० रुपये मासिक निवेश करने की शुरुआत के प्रभाव को दर्शाता है।

Sip full form in Hindi
Sip full form in Hindi

जिसमे आप को..

आपकी निवेश राशी – ₹१५,00,000

अनुमानित वृद्धी – ₹७९,८८,१७५

संपूर्ण राशी – ₹ ९४,८८,१७५ मिलता है ।

यदि आप इसमे ५ साल की शुरुआत जल्द करते है, तो परिणाम अतिरिक्त रुप से बदलते है। इससे इसमे ८१. ६१ लाख रु अंतिरिक्त कॉर्पस बडता है।

यदि आप २५ वर्ष की उम्र में एसआईपी शुरू करते हैं, तो चित्रण के अनुसार लगभग ९४,८८, १७५ लाख रपये रिटायरमेंट के समय पैदा किए जा सकते हैं। यदि आपने 5 साल इंतजार किया और 30 साल में एसआईपी से १,७६,४९,५६९ रुपये बना सकते है।

टॉप अप SIP – Top up sip:

टॉप-अप एसआईपी एक ऐसी सुविधा है, जो आपको हर साल या पूर्व-निर्धारित अंतराल पर अपनी आय / बचत में वृद्धि के अनुसार एक निश्चित राशि या प्रतिशत (१० % कहते हैं) से आपके एसआईपी को बढ़ाने का सुविधा देती है। आपके एसआईपी में यह टॉप-अप आपके निवेश को मुद्रास्फीति की लागत में वृद्धि के अनुरूप होने की अनुमति देता है और आपको अपने वित्तीय लक्ष्यों के लिए योजना बनाने में मदद करता है। यह आपके वित्तीय लक्ष्यों तक पहुँचने में मदद कर सकता है, या आपके लक्ष्य के लिए एक बडी राशी बना सकता है।

Sip के नुकसान – Sip ke nuksan:

१) sip मे नुकसान कि बात कारे तो नुकसान काफी सिमित मात्रा मे होता है, क्युकी sip का म्यूचुअल फंड द्वारा बहुत सारी कंपनीयोमे निवेश किया जाता है, जीससे कंपनी डूबने या आर्थिक दिवलीया हो जाणे पर भी जादा असर नही पडता, जीससे आपका नुकसान होणे कि संभावन कम हो जाती है।

२) sip के माध्यम से कि जाने वाले निवेश से आपको निचित राशी तो मिलती है। लेकीन साल दर साल के आधार पर देखा जाये तो, इसमे काफी समय लगता है, जो कि १५ या २०% से जादा का रिटन जनरेट नही कर पाता।

३) इसके अलावा आपको राशी का नियमित रूप से निवेश भी करणा पडता है, जो किसी किसी के लिये उचित नही होता।

दोस्तो, आज आपने Sip full form in Hindi मे विस्तार से इस लेख के माध्यम से जानकारी हासील कि, जिससे आपको निश्चित रूप से फायदा होगा, आप Sip full form in Hindi लेख के बारे मे अपने विचार कमेंट के माध्यम से दे सकते है।

आप यह भी पढ सकते हो…

१) kyc full form in hindi.

२) Credit meaning in Hindi.

3) Mba full form in Hindi.

4) Depression meaning in Hindi.

Leave a Comment