अल्फ्रेड नोबेल कि याद मे १९०१ से शुरू हुआ नोबेल पुरस्कार ओर उनकी वसीयत !

नोबेल पुरस्कार – Nobel Prize Nobel Prizes – नोबेल पुरस्कार जो कि स्वीडिश आविष्कारक और उद्योगपति अल्फ्रेड नोबेल कि याद मे १९०१ से शुरू किया गया था। इस पुरस्कार का वितरण नोबेल फौंडेशन द्वारा किया जाता है। यह पुरस्कार शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र के क्षेत्र के सबसे सर्वोच्च पुरस्कार माने जाते … Read more

महाराष्ट्र राज्य की जानकारी और इसके रोचक तंथ्य

महाराष्ट्र ( Maharashtra State ) राज्य की स्थापना 1 मई 1960 को हुई थी। यद्यपि यह 1960 में महाराष्ट्र राज्य के रूप में अस्तित्व में आया, लेकिन इसका एक लंबा इतिहास है। यह इस महाराष्ट्र ( Maharashtra State ) राज्य का सौभाग्य है कि इस राज्य में कई राजा, महाराजा, समाज सुधारक और संत पैदा … Read more

BRICS -ब्रिक्स कि स्थापना ओर ब्रिक्स देशो के उद्देश

ब्रिक्स देश – Brics countries ब्रिक्स एक पाच देशो का समूह है, जिसका मतलब विश्व कि पांच प्रमुख उभरती राष्ट्रीय अर्थव्यवस्थाओं मे : ब्राजील, रूस, इंडिया, चीन और दक्षिण अफ्रीका को जोड़कर बनाया गया संक्षिप्त नाम है। ब्रिक्स का मुख्यालय चीन के शांघाई शहर मे है। उसे ब्रिक्स टॉवर मुख्यालय (पूर्व ओरिएंटल फाइनेंशियल सेंटर) शांघाई … Read more

प्राचीन भारत का इतिहास और विस्तार..

प्राचीन भारत का इतिहास – Prachin bharat ka itihas   इतिहास कि बात होती है तो भारत बहुत प्राचीन है और विविध सभ्यताओं का जन्म यहाँ हुआ था। यह देश विविधताओं से भरा है जहां हमारे लोग विभिन्न समुदायों और विविध धर्मों की संस्कृति को समझते हैं और मानते हैं। लेकिन आज हम जिस देश को देख … Read more

होम रूल मूवमेंट मे टिलक ओर ॲनी बेझंट की भूमिका

20 वीं सदी मे आयरलैंड के लोगों ने अपने देश के स्वतंत्रता संग्राम के लिए home rule  movement शुरुआत की। इसी आधार पर भारत में आंदोलन शुरू करने का निर्णय लिया गया था। जिसमे लोकमान्य तिलक ओर ॲनी बेझंट ने बीसवीं शताब्दी की शुरुआत में स्वतंत्रता के लिए आंदोलन शुरू किया। इ. स. 1916 मे … Read more

मुगल सम्राट ओर मुगल साम्राज्य के पतन के कारण.

    मुगल सम्राट – Mughal Samrat    मुगल सम्राट बाबर ने भारत में मुगल साम्राज्य की नींव रखी और साम्राज्य को स्थिरता दी। औरंगजेब के शासनकाल के दौरान, मुगल साम्राज्य सर्वोच्च स्थान पर पहुंच गया, लेकिन इसकी दोषपूर्ण राजपूत नीति, त्रुटिपूर्ण दक्षिणी और धार्मिक नीति के कारण राज्य में विद्रोह हुआ। औरंगजेब के बाद, कोई … Read more

ASEAN – आसियान एसोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशंस

आसियान राष्ट्र – ASEAN COUNTRIES Association of South east Asian Nations दक्षिण पूर्व एशियाई देशों ( ASEAN COUNTRIES ) का संगठन या आसियान, ये दक्षिण पूर्व एशियाई देशों का एक संघ है। आसियान दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण क्षत्रिय संगठनों में से एक है। इस संगठन के बारे में जानकारी प्राप्त करने से पहले, यह देखना उचित … Read more

महाराष्ट्र पोलीस भरती 2021

Maharashtra police bharti 2021– महाराष्ट्र सरकार राज्य में मेगा पुलिस भर्ती प्रक्रिया को लागू करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। तदनुसार, 21 जनवरी, 2021 को एक नया जीआर-सर्कुलर प्रकाशित किया गया है। नए जीआर GR के अनुसार, कुल 12,528 पुलिस पदों को मंजूरी दी गई है। इस परिपत्र के अनुसार, 5297 पदों की … Read more

शिलाजित के फायदे और इसके दुष्प्रभाव..

शिलाजीत के फायदे शिलाजीत के फायदे – शिलाजीत को अक्सर आयुर्वेदिक चिकित्सकों द्वारा कमजोरी को नष्ट करने वाली दवा के रूप में माना जाता है। शिलाजीत एक ऐसा जड़ी-बूटी या औषधि है, जो सदियों से चिकित्सा की प्रक्रिया में एक महत्वपूर्ण घटक बना हुआ है। शक्तिशाली टेस्टोस्टोरोंस हार्मोन को बढाने और कामोत्तेजक गुणों से युक्त … Read more

सिमला समझौता ओर भारत पाकिस्तान के संबंध सुधारणे के लिये इंदिरा गांधी का प्रयास

शिमला समझौता – Shimla Agreement Shimla Agreement – बांगलादेश के धरती पे हुए अपमानजनक पराभव से पाकिस्तानी सेना कि हालत बहुत खस्ता हो गई थी । इसी संधी का फायदा भारत ने उठाया होता तो पाकिस्तान के हालात बहुत गंभीर बन जाते, लेकीन भारत ने कभी भी किसी के जमि पर कब्जा करणे का नही … Read more

शिवाजी महाराज एक हिंदू सम्राट की पराक्रमी गाथा

परिचय शिवाजी महाराज का जन्म 19 फरवरी 1630 को पिता शाहजी और माता जिजाबाई के घर हुआ था। शाहजी बीजापुर के दरबार में सरदार थे। शिवाजी महाराज का पालन-पोषण माता जिजाबाई के सानिध्य मे हुआ था। सत्रहवीं शताब्दी में,महाराज ने एक शक्तिशाली मराठा साम्राज्य की स्थापना की। शिवाजी महाराज ने अपनी प्रजा के मन में … Read more