मालदीव टूर | मालदीव देश की राजधानी | मालदीव की राजधानी क्या है | मालदीव कहां है?

नमस्कार दोस्तो, आज हम इस लेख के माध्यम से मालदीव टूर के लिये मालदीव देश की जानकारी, मालदीव की राजधानी, मालदीव कहां है? ओर मालदीव देश के महत्वपूर्ण पह्लुओ पर विचार साझा करणे वाले है। तो आप पुरा लेख ध्यान से पढे, जिससे आपकी मालदीव कि यात्रा मे चार चांद लगने वाले है।

मालदीव देश की जानकारी:

दोस्तो मालदीव हिंद महासागर मे बसा एक छोटा सा देश है, जिसके बाजू मे अरब सागर भी है। मालदीव एक गणराज्य है, जो भारतीय उपमहाद्वीप के दक्षिण-पश्चिम में स्थित है। यह लगभग १२00 द्वीपों की श्रृंखला से बना है, जिनमें से अधिकांश निर्जन हैं। प्रवाल द्वीपों में से कोई भी समुद्र तल से १.८ मीटर (छह फीट) से अधिक ऊपर नहीं है। जिससे देश ग्लोबल वार्मिंग से जुड़े समुद्र के स्तर में किसी भी वृद्धि के प्रति संवेदनशील हो जाता है। अर्थव्यवस्था पर्यटन के इर्द-गिर्द घूमती है,और पर्यटक बाजार के शीर्ष छोर के लिए कई द्वीपों का विकास किया गया है। २००८ में लंबे समय से राष्ट्रपति मौमून अब्दुल गयूम की चुनावी हार के बाद से इसका राजनीतिक इतिहास अस्थिर रहा है।

मालदीव की राजधानी:

हिंद महासागर में मालदीव की राजधानी माले है। यह श्रीलंका के दक्षिण-पश्चिम में लगभग ६४५ किमी स्थित है। माले मे सरकार की मुख्य ऑफिसेस है। इसमें केंद्रीय अदालतें, एक सरकारी अस्पताल, अंग्रेजी में शिक्षा के साथ सार्वजनिक और निजी स्कूल और इंजीनियरिंग पर केंद्रित एक व्यावसायिक-प्रशिक्षण स्कूल है। यह एक व्यापार और पर्यटन केंद्र है। माले स्टीम शिप लाइनों द्वारा श्रीलंका और भारत से जुड़ा हुआ है। माले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय दोनों उड़ानों का संचालन करता है। माले मे मुख्य उत्पाद मछली (बोनिटो और टूना), नारियल, ब्रेडफ्रूट और बुने हुए पाम मैट हैं। यहा पर २००४ में इंडोनेशिया के पास हिंद महासागर में आए भूकंप के कारण मालदीव में आई एक बड़ी सुनामी की चपेट में आने के बाद शहर का अधिकांश भाग जलमग्न हो गया था। हालांकि, माले की समुद्री दीवार ने नुकसान को सीमित कर दिया।

मालदीव कहां है:

मालदीव एशिया का सबसे छोटा देश है। देश को इसकी सुंदरता और द्वीपों के द्वीपसमूह के गठन की विशिष्टता से पहचाना जाता है। मालदीव श्रीलंका और भारत के दक्षिण-पश्चिम में हिंद महासागर में स्थित हैं। लगभग ११९२ छोटे प्रवाल द्वीप समूह में हैं, और २६ प्राकृतिक रूप से निर्मित प्रवाल द्वीप हैं। मालदीव के द्वीप ९०,000 वर्ग किलोमीटर से अधिक क्षेत्र में फैले हुए हैं, और २00 से अधिक बसे हुए द्वीपों से समझौता करते हैं। लगभग १२२ द्वीपों को पर्यटक रिसॉर्ट के रूप में विकसित किया गया है। साथ हि ७८ से अधिक द्वीपों को कृषि उपयोग और अन्य आजीविका उद्देश्यों के लिए उपयोग मे लाया जाता है।

मालदीव उपमहाद्वीप में श्रीलंका के पश्चिम में ८२३ किलोमीटर तक फैला हुआ है। साल भर मे यहा मौसम ज्यादातर धूप वाला होता है। जिससे मालदीव में साल के किसी भी समय छुट्टी की योजना बनाना आसान हो जाता है। देश भूमध्य रेखा के उत्तर में स्थित है और ४ डिग्री-१७ उत्तर अक्षांश और ७३ डिग्री-५० पूर्व देशांतर के बीच स्थित है। मालदीव की कुल तटरेखा ६४४ किमी है। जिसमें सबसे उत्तरी बेट भारत के मिनी कॉय बेट से लगभग ११० किमी दक्षिण में ओर भारत केप कोमोरिन से ४८० किमी दक्षिण पूर्व और श्रीलंका ६४९ किमी पश्चिम में स्थित है।

मालदीव के द्वीप तराई का प्रदेश हैं। उनमें से कोई भी समुद्र तल से ६ फिट से ऊपर नहीं उठा है। यहा कि शुद्ध सफेद रेतिले समुद्र तट देश को छुट्टी के लिए सबसे स्वर्गीय गंतव्य में से एक बनाते हैं। इसलिए यदि आप अपने दैनिक जीवन के तनावों से आराम पाने के लिए दृश्य में बदलाव के बारे में सोच रहे हैं, तो मालदीव आपके लिए एक आदर्श गंतव्य स्थल हो सकता है, जिसके बारे में आप सोच सकते हैं।

मालदीव टूर:

आप मालदीव टूर करणे का आप प्लान बना रहे है, तो इन बातो को ध्यान मे रखे। मालदीव टूर मे आप कमसे कम ५ दिन का प्लान बना सकते है, क्युकी आपको मालदीव टूर को रोमांचक बनाना होतो समय तो आपको देणा ही पडेगा। मालदीव टूर मे आप नीचे दी गयी जगह आवश्य जाना चाहिये, जीससे मालदीव टूर आपका खास हो सके। आप Male City, COMO Cocoa Island, Vaadhoo Island, Addu Atoll, Maafushi, Addu City, Artificial Beach, Malé Atoll, Fulhadhoo Island, The Muraka – Conrad, Sun Island, Banana Reef, Maamigili, Maldives Glowing Beach, Alimatha Island, Fihalhohi Island, Emboodhu Finolhu Island, Baros Island, Mirihi Island, Huvahendhoo Island, Rangali Island, Veligandu Island Beach, Gan Island, Naifaru, Thoddoo, Kanuhura Island, Male Local Market, Majeedhee Magu, Le Cute इन जगह जा सकते हो।

मालदीव टूर पैकेज:

मालदीव टूर पकेज कि बात करे तो मालदीव भारत से नजदीक होणे के बाऊजुद यहा का टूर का पकेज महंगा लगता है। जिसमे 4 Nights/ 5 Days का लगभग Rs. 1,08,446 लगता है जो २४ घंटे कि बात करे तो लगबग २० हजार के आस पास है लेकीन मालदीव कि यात्रा आपकी खास कर सकता है।

मालदीव जाने का खर्चा:

पिछले ७२ घंटों में भारत से मालदीव का सबसे सस्ता टिकट ₹५ ,९१० वन-वे और ₹१४,०४९ राउंड-ट्रिप का मिला। सबसे लोकप्रिय रूट नई दिल्ली से माले के लिए है, और पिछले ७२ घंटों में इस रूट पर मिलने वाला सबसे सस्ता राउंड-ट्रिप एयरलाइन टिकट ₹१६,४४४ था। यह लेख पब्लिश होणे के वक्त का यह रेट है।

भारत से मालदीव की दूरी कितनी है:

भारत से मालदीव की दूरी २,१४२ किलोमीटर है। यह हवाई यात्रा दूरी १,३३१ मील के बराबर है।

भारत से मालदीव कैसे जाए:

यात्रा करने का सबसे अच्छा तरीका उन लोगों के लिए हवाई मार्ग है, जो मालदीव जाना चाहते हैं। भारत से मालदीव की उड़ान में सवार होने के लिए दिल्ली, मुंबई, कोच्चि, आदि मुख्य हवाई अड्डे हैं। ले-ओवर समय के आधार पर, भारतीय शहरों से माले हवाई अड्डे तक पहुंचने में लगभग ७ से ११ घंटे लगते हैं।

मालदीव के बारे मे अक्सर पूछे जाने वाले सवाल:

१) मालदीव का टिकट कितने का है?

पिछले ७२ घंटों में भारत से मालदीव का सबसे सस्ता टिकट ₹५ ,९१० वन-वे और ₹१४,०४९ राउंड-ट्रिप का मिला। सबसे लोकप्रिय रूट नई दिल्ली से माले के लिए है, और पिछले ७२ घंटों में इस रूट पर मिलने वाला सबसे सस्ता राउंड-ट्रिप एयरलाइन टिकट ₹१६,४४४ था। यह लेख पब्लिश होणे के वक्त का यह रेट है।

२) मालदीव में कौन सा धर्म है?

संविधान कहता है, कि देश इस्लाम के सिद्धांतों पर आधारित एक गणतंत्र है और इस्लाम को राज्य धर्म के रूप में नामित करता है, जिसे वह सुन्नी शिक्षाओं के संदर्भ में परिभाषित करता है। इसमें कहा गया है, कि नागरिकों का इस्लाम को संरक्षित करना “कर्तव्य” है।

३) मालदीव जाने के लिए पासपोर्ट लगता है क्या?

प्रवेश के लिए आगे/वापसी टिकट और पर्याप्त धनराशि के साथ एक वैध पासपोर्ट की आवश्यकता होती है। साथ हि आगमन पर 30 दिनों के लिए वैध नो-कॉस्ट विज़िटर वीज़ा जारी किया जाता है।

४) मालदीप में कौन सी भाषा बोली जाती है?

मालदीव सदियों से, फारसी, उर्दू, अरबी, द्रविड़, फ्रेंच, पुर्तगाली और अंग्रेजी के प्रभाव के साथ विकसित हुआ है। मालदीव में अंग्रेजी इतनी व्यापक रूप से बोली जाने का कारण यह है, कि यह उनके स्कूलों में इस्तेमाल की जाने वाली आधिकारिक भाषा है।

५) मालदीव क्या भारत का हिस्सा है?

मालदीव हिंद महासागर में भारत के लक्षद्वीप द्वीप समूह के दक्षिण में स्थित है। १९६६ में ब्रिटिश शासन से मालदीव की स्वतंत्रता के बाद दोनों देशों ने राजनयिक संबंध स्थापित किए। भारत मालदीव की स्वतंत्रता को मान्यता देने वाले पहले राष्ट्रों में से एक था।

६) मालदीव भारत में कहाँ स्थित है?

मालदीव, भारत के दक्षिण पश्चिम में ४00 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, जो एशिया के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है।

७) मालदीव की धार्मिक जनसंख्या कितनी है?

मालदीव में बहुसंख्यक धर्म इस्लाम है, जिसमें ९८% अनुयायी हैं। मालदीव में पूरी आबादी, १00%, धार्मिक हैं। नवीनतम सर्वेक्षण के आंकड़ों से संकेत मिलता है, कि मालदीव की आबादी का धर्म के प्रती विश्वास १०० % तक बना हुआ है।

आपको यह लेख किस तरह लगा आप हमे कमेंट के माध्यम से बता सकते है।

आप यह भी पढ सकते है…

१) श्रीलंका देश कि राजधानी क्या है?

२) सौदी अरब कि राजधानी क्या है?

Leave a Comment